मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi 2021

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi 2021 – बात लगभग 2 साल पुरानी है। उस समय मेरी उम्र लगभग 18 वर्ष होगी। उस समय पूरे गांव में सिर्फ मेरे पास ही कार थी। एक दिन ऐसा हुआ कि मैं घर से जल्दी निकल कर अपनी कार से शहर ऑफिस जा रहा था। तभी अचानक मेरे मोहल्ले की एक लड़की मुझसे शहर जाने के लिए लिफ्ट मांगती है। मैं गाड़ी रोक देता हूं और उसे गाड़ी में बैठ जाने के लिए कहता हूं।

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi 2021 –

 

अब आपको बता देता हूं कि उस लड़की का नाम रीना था। मैंने उससे पूछा कि आपको कहां जाना है – तब रीना ने जवाब दिया – कुछ जरूरी काम से शहर जा रही हूं।

गाड़ी में सिर्फ हम दोनों ही बैठे हुए थे। थोड़ी देर गाड़ी चलने के बाद मैंने सामने वाले कांच को उसकी तरफ घुमा दिया और गाड़ी चलाते हुए रीना को देखते जा रहा था। तभी रीना की निगाहें उस कांच पर पड़ जाती है तो वह बिना कुछ कहे कांच को वापस घुमा देती है।

अब मुझे डर पैदा हो गया की अगर अबकी बार मैंने कांच घुमाया तो रीना कुछ करारा जवाब देगी। रीना चुपचाप अपनी सीट पर बैठी रहती है और मैं बिना उसे देखें गाड़ी चलाता रहता हूं। लगभग 1 घंटे बाद हम शहर पहुंच जाते हैं। गाड़ी से उतरते वक्त रीना ने मुझसे पूछा – घर वापस कब चलोगे।
तब मैंने जवाब दिया – मुझे लगभग 2 घंटे का काम है, उसके बाद घर चलूंगा।
रीना ने जवाब दिया – शायद इतना ही वक्त मुझे लगेगा मुझे अपना नंबर दे दो मैं तुम्हें कॉल कर लूंगी।
तब मैं रीना को अपना नंबर दे देता हूं और वहां से रवाना हो जाता हूं।

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi

मैं अपना जरूरी काम पूरा करने के बाद ऑफिस से निकल कर अपनी कार स्टार्ट कर लेता हूं और वहां से रवाना हो जाता हूं। थोड़ी देर बाद मुझे कॉल आता है। उस समय मैं गाड़ी चला रहा था और ट्रैफिक अधिक होने की वजह से कॉल उठा नहीं पाया। एक रिंग खत्म होने के बाद तुरंत उसी नंबर से दोबारा कॉल आ गया। मैं अपनी गाड़ी को ट्रैफिक से निकालकर उसका कॉल उठाता हूं तो पता चलता है कि बात करने वाली लड़की रीना है।

कॉल उठाते ही रीना ने बोला – आप कहां हो मैं उसी जगह पर आपका इंतजार कर रही हूं जहां पर आपने मुझे ड्रॉप किया था।
मैंने कहा – आप बस 5 मिनट इंतजार करो मैं थोड़ी देर में पहुंचता हूं।
10 मिनट बाद मैं उसी जगह पर पहुंच जाता हूं, जहां पर रीना को ड्रॉप किया था।
खिड़की खोल कर रीना गाड़ी में बैठ जाती है लेकिन अबकी बार वह मेरी बगल वाली सीट पर बैठी हुई थी।
मैंने सोचा शायद पहले की हुई हरकत की वजह से रीना आगे वाली सीट पर बैठी है।

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi

लेकिन यहां तो नजारा कुछ और ही था इतने में ही रीना ने मुझसे कहा – आपने शहर आते समय कांच को मेरी तरफ क्यों घुमाया था।
मैं चुपचाप गाड़ी चलाता रहा लेकिन रीना ने फिर से पूछा कि शायद आपको सुनाई नहीं देता है।
इस पर मैंने जवाब दिया – सुनाई तो देता है लेकिन मैंने कांच को आपकी तरफ नहीं घुमाया था।
रीना कुछ बोलती उससे पहले मैं पूछ लेता हूं – क्या लेकर आई हो।
रीना ने कहा – कुछ घरेलू सामान लेकर आई हूं।
मेरी निगाह रीना की गोद में रखे एक डिब्बे पर पड़ती है तो मैंने पूछा इस डिब्बे में क्या है।
रीना कुछ भी जवाब नहीं देती है और डिब्बे को अपनी अपनी चून्नी से छुपा लेती है। ‌

इतनी बातचीत होते हुए हमारा आधा सफर खत्म हो जाता है। इस तरह बातचीत करते हुए हम घर आ पहुंचते हैं। रीना गाड़ी से उतरकर अपने घर चली जाती है। शाम का वक्त था मैं अपने मकान की छत पर टहल रहा था और रीना मेरे सामने वाले मकान की छत पर घूम रही थी। तभी मेरे फोन पर एक मैसेज आता है। मैं अपनी जेब से मोबाइल निकाल कर देखता हूं तो मैसेज रीना का था।Neighborhood Love Story

उस मैसेज में लिखा था – आपने मुझसे गाड़ी में पूछा था कि डिब्बे में क्या लेकर आए हो जानना चाहोगे। ‌
मैंने जवाब में लिखा – हां जरूर लेकिन आप बताते कहां हो।
रीना का मैसेज – लेकिन आखिर क्यों जानना चाहते हो।
मैंने लिखा – बस यूं ही जानने के लिए पूछा था की आखिर डिब्बे में क्या है।
वापस रीना का मैसेज – कुछ ऐसा सामान था जो आपको बताने में शर्म आती है।
फिर मैंने मैसेज लिखा – अच्छी बात है मत बताओ लेकिन थोड़ा अंदाजा तो मुझे भी लग चुका है।

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi

इस तरह मैसेज पर बातचीत करने में एक माह गुजर जाता है। एक माह बाद रीना मुझे कॉल करती है और पूछती है – कल तुम ऑफिस जाओ तब मुझे बताना मैं कुछ काम से शहर चलूंगी।
मैंने कहा – जरूर साथ लेकर चलूंगा लेकिन अबकी बार कांच को मत घुमाना। ‌
रीना ने कहा – बिल्कुल नहीं, लेकिन मैं तुम्हारे बगल वाली सीट पर बैठूंगी।
मैंने कहा – सुबह 7:00 बजे तैयार हो जाना क्योंकि मैं ऑफिस उसी समय जाता हूं।
इस पर रीना ने कहा – मैं सुबह 7:00 बजे आपको तैयार मिलूंगी।

अगले दिन सुबह होते ही मैं घर से फ्री होकर 7:00 बजे अपनी गाड़ी स्टार्ट करके ऑफिस के लिए निकल लेता हूं। कार को घर से बाहर निकालने के बाद रीना पीले रंग के सलवार सूट पहले हुए मेरे सामने ही खड़ी थी।

उसके हाथों में हरी चूड़ियां थी और माथे पर एक छोटी सी बिंदी लगी हुई थी। रीना को देखते हुए मेरे दिल में धड़कन पैदा हो गई कि आज तो रीना बिल्कुल सितम ढ़ा रही है।Neighborhood Love Story

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi

मैंने पहली बार किसी लड़की को इतनी देर तक लगातार देखा था। मुझे ऐसा लग रहा था कि शायद रीना से प्यार कर बैठा हूं। थोड़ी देर बाद मैं गाड़ी को रीना के पास जाकर रोक देता हूं और वह गाड़ी की खिड़की खोलकर मेरी बगल वाली सीट पर बैठ जाती है।

गाड़ी में बैठने के बाद पूरी गाड़ी महक उठी क्योंकि रीना ने परफ्यूम लगा रखा था। अब तो मैं पूरी तरह से रीना का दीवाना हो गया।

इतने में मैंने पूछ लिया – मैडम आज परफ्यूम किसके लिए लगाया है।
रीना ने जवाब दिया – किसी के भी लिए लगाया हो उससे आपको क्या मतलब है।
मैंने कहा – कोई बात नहीं।
मैं सोच रहा था कि आज रीना को बता दूं कि मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं, लेकिन अंदर से डर पैदा हो रहा था कि रीना ने मना कर दिया या गुस्सा हो गई तो क्या करूंगा।

लेकिन मैं उसके पुराने मैसेज को याद करके सोचता हूं कि इतनी बातचीत तो कर चुका हूं फिर डरने की क्या बात है। मैं थोड़ी हिम्मत जुटा पाता हूं और रीना को बोल देता हूं कि मैं तुमसे प्यार करता हूं लेकिन वह कुछ भी जवाब नहीं देती है। आज मैं गाड़ी को बिल्कुल धीरे चला रहा था क्योंकि मुझे उससे प्यार के बारे में जवाब चाहिए था। फिर से मैं उसी बात को दोहराता हूं।
इस पर रीना ने कहा – तुम चुपचाप गाड़ी चलाओ।

अब मैं थोड़ा बहुत डरे हुए फिर से कहता हूं – रीना मैं तुमसे अपनी जान से अधिक प्यार करता हूं। रीना ने कहा – शायद आपने मेरे द्वारा भेजे गए अंतिम मैसेज को नहीं पढ़ा है, इसलिए ही इतनी बातचीत कर रहे हो। फिर क्या था मैंने अपने मोबाइल उठाया और रीना के अंतिम मैसेज को पढ़ा तब पता चला कि रीना मुझसे पहले से ही प्यार करती हैं।
उस मैसेज में लिखा था – मैं तुमसे काफी दिनों से प्यार करती हूं लेकिन कहने की हिम्मत नहीं जुटा पाई। आज इस मैसेज के जरिए आपको यह बता रही हूं।

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi

अब हमारे बीच किसी भी प्रकार की कोई दूरी नहीं थी और हम एक दूसरे के प्रेमी हो गए। हम दोनों गांव में लोगों की नजरों से बचकर मिलने लगे और शहर में बिना डरे एक साथ घूमते थे।

इस तरह से हमारे प्यार को 4 साल गुजर गए लेकिन हमारा मिलना-जुलना उसी प्रकार चलता रहा जैसे पहली बार मिले हैं। शाम के समय दोनों अपने-अपने मकानों की छत पर पहुंच जाते थे और वहां से मोबाइल पर बातचीत करते रहते थे।

मैं कभी-कभी रीना के घर भी चला जाता था क्योंकि रीना के पापा मेरे एक अच्छे दोस्त थे। रीना के घर जाकर भी मस्ती करता रहता था लेकिन किसी को हमारे प्यार के बारे में शक भी पैदा नहीं होने दिया। एक दिन मैं मकान के ऊपर वाली बाथरूम में नहा रहा था उसी समय रीना कुछ काम से हमारे घर आई। रीना की आवाज सुनकर मैं जल्दी-जल्दी नहाने लग गया लेकिन मुझे क्या पता था कि रीना मुझे ही ढूंढ रही है।

रीना मकान की छत पर आ जाते हैं और इधर-उधर ढूंढती है। तभी मैंने आवाज लगाई – रीना मैं नहा रहा हूं आप भी मेरे पास आ सकती हो।
रीना ने बाहर से कहा – कितने गंदे इंसान हो क्या तुम्हें शर्म नहीं आती है।
मैंने कहा – शर्म की क्या बात है हम दोनों एक दूसरे से प्यार करते हैैं।
रीना जवाब देती है – मैं बाहर तुम्हारा इंतजार कर रही हूं तुम जल्दी नहा कर आ जाना।
फिर मैं सोचता हूं कि रीना को एक बार अंदर जरूर बुलाया जाए।

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi

तभी मैं रीना को आवाज लगाता हूं – रीना मेरा तोलिया ऊपर वाले कमरे में बेड पर पड़ा है लाकर दे दो।
रीना ने कहा – लाकर देती हूं।
जैसे ही रीना तोलिया लेकर बाथरूम के गेट पर पहुंचती है मैं अचानक से उसका हाथ पकड़ कर अंदर खींच लेता हूं लेकिन वह हाथ छुड़ाकर चली जाती है। मैं जल्दी नहाकर नीचे चला जाता हूं वहां पर रीना खड़ी हुई थी।

रीना मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी‌। तभी मैंने कहा आज आपको कहां जाना है। रीना ने कहा – कहीं नहीं जाना है बस आपकी गाड़ी में मेरा सामान रह गया है उसे निकालना है।‌ थोड़ी देर बाद मैं गाड़ी से सामान निकालकर रीना को दे देता हूं। वह उस सामान को लेकर वहां से चुपचाप चली जाती है।

मुझे ऑफिस के कुछ जरूरी काम से महाराष्ट्र जाना पड़ा और वहां पर मुझे कम से कम 2 महीने रुकना था। मैं सुबह जल्दी रीना को बिना बताए गाड़ी लेकर वहां से ऑफिस के काम के लिए रवाना हो गया।

लगभग 15 दिन तक मोबाइल पर मेरी और रीना की बातें होती रही लेकिन एक दिन मैं बाहर घूमने गया था तभी अचानक मेरा फोन चोरी हो गया। जब मैं होटल पहुंचा तब पता चला की मेरा मोबाइल चोरी हो गया है। उसके बाद एक भी दिन रीना से बात नहीं हुई। 2 महीने बाद जब मैं घर पहुंचा तब पता चला कि रीना की शादी हो गई थी। मुझे शादी वाली बात को सुनकर काफी दु:ख हुआ लेकिन फिर सोचने लगा एक दिन रीना की शादी होना तय थी।

मोहल्ले वाला प्यार – Neighborhood Love Story in Hindi

मैं हमेशा उदास रहने लग गया। समय के अनुसार ऑफिस पहुंच जाता लेकिन किसी प्रकार का कोई काम नहीं कर पा रहा था क्योंकि मेरा दिमाग रीना के बारे में ही सोचता रहता था। एक दो महीने गुजरने के बाद मेरे घरवाले कि मेरी शादी की बातचीत करना शुरू कर देते हैं। कुछ ही महीनों बाद घरवाले मेरे लिए एक लड़की ढूंढ लेते हैं और इधर मैं भी शादी करने के लिए तैयार हो जाता हूं। कुछ ही दिनों बाद मेरी शादी हो जाती है और आज हम दोनों पति-पत्नी दो बच्चों के साथ काफी खुश है।

दोस्तों जीवन में शादी जैसे बड़े फैसले लेने से पहले अपने माता-पिता से पूछना चाहिए क्योंकि उनकी अनुमति के बिना लिया गया फैसला दु:ख जरूर देता है।

दोस्तों अगर आपको यह लव स्टोरी पसंद आई है तो कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्तों को शेयर करना ना भूले। इस तरह की और Best Love Story in Hindi, प्रेम कहानियां, मजाक कहानी पढ़ने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।

अधूरे प्यार की कहानी – अमर उजाला

Leave a Comment


 

x