Latest Love Story With Marrige Girl | शादी वाली लड़की के साथ प्यार की कहानी।

Latest Love Story With Marrige Girl

With Marrige Girl
With Marrige Girl

जैसा की आप साब जानते है की हम सब कही भी जाये यदि हम सिंगल है तो हम प्यार की तलाश करते है। मैं भी उन लोगो में से एक था। जो कही भी जाता तो प्यार की तलाश  करता। मैं ये सोचता की मेरे अलावा और भी तो लड़के है जिन्हे प्यार बड़ी आसानी से मिल जाता है। मुझे आशा थी की एक दिन मुझे भी किसी लड़की का प्यार मिलेगा। समय के साथ मुझसे भी शादी में एक लड़की से प्यार हुआ। With Marrige Girl

इस कहानी में मैं एक शादी में गया था उस समय वहा एक लड़की को मुझसे प्यार हुआ था। यह कहानी बहुत ही रोमांश से  भरी हुई है तो इस कहानी के अंत तक बने रहिये हो सकता है इस कहानी के कुछ लम्हे आप के प्यार से जुड़े हो। तो आइये शुरू करते है।

मुझे आज भी वो दिन याद है। जब मैं अपने दोस्तों को उनकी गर्लफ्रेंड से बाते करते देखता तब मेरा भी गर्लफ्रेंड बंनाने के मन करता। उस समय में बिल्कुल सिंगल था। हम सब दोस्त कही भी बाहर घूमने के लिए जाते थे मैं तब भी वहा पर ये सोच कर उनके साथ जाता की कोई लड़की मुझसे प्यार करेगी। हमारी गली में कोई भी लड़की मुझे दिखती तो उसका पीछा करता। With Marrige Girl

इस मामले में  भगवान भी मेरा साथ नहीं दे रहे थे। जब काले -काले लड़को के साथ सुन्दर -सुन्दर लड़कियों को देखता तो अपने आप पर बड़ा तरश आता। मेरे दोस्तों में से मैं सबसे अच्छा था लेकिन मेरी एक भी गर्लफ्रेंड नहीं थी। हलाकि मेरे दोस्तों की गर्लफ्रेंड सामने मेरी खूब तारीफ करती लेकिन इस मामले में मेरा कुछ ही नहीं हो सकता था।

कई बार तो मैंने अपने दोस्तों की प्रेमिकाओ को ही प्रपोज कर दिया दिया लेकिन वहा भी मेरी किस्मत मारी गयी थी। कभी -कभी इस मामले को मैं इतना गंभीर से ले लेता था की। अकेला ब्रिज पर जाकर शराब पीकर जोर -जोर से चिल्लाता की कोई लड़की मुझसे प्यार कर ले।

काफी कोशिश के बाद भी मेरी बात नहीं बनी तो मैं अपनी किस्मत को दोष देते हुए लड़कियों की तरफ देखना बंद कर दिया। धीरे -धीरे मैं अपने काम -से काम रखने लगा। अपने दोस्तों के साथ बाहर जाना की भी बंद कर दिया। रास्ते में जो भी लड़की मिलती उससे नजरे छुपाकर नकल जाता।

जैसे -जैसे समय निकलता गया मैं अपने आप में खुश रहने लगा। फिर एक दिन मुझे मेरे पापा ने फोन किया और कहा की मेरे दोस्त के लड़के की शादी है और मुझे वहा जाना है। उस समय मेरे पिताजी दिल्ली में पुलिस की नौकरी करते थे। तो उनका तो वहा जाना नहीं हो पायेगा। इस लिए उन्होंने मुझे ही वहा जाने के लिए कहा। मेरा वहा जाने का तो मन नहीं था। लेकिन पिताजी के कहने पर मैंने वहा जाने की हा भर ली। With Marrige Girl

अगले दिन मुझे उस शादी में जाना था। मैं उस समय वहा किसी को जानता नहीं था तो मैंने सोचा की क्यों न मैं अपने दोस्तों को अपने साथ वहा ले जाऊ। तब मैं सब को कॉल किया और शादी में जाने की बात कही। सब को वहा आने के लिए मैं कहकर मैं नहाने के लिए चला गया।

जब मैं नहा कर बाहर निकला तब मैंने अपने सारे दोस्तों को अपने घर में बैठे हुए देखा। मैं मैंने सोचा और कहा की तुम कितने कमीने हो शादी में जाने लिए सब जल्दी तैयार होकर आ गए। कही काम को बोल देता हो सब नए -नए वाहने भर लेते है। मेरे इतना कहने पर सब -के सब अपने दाँत दिखाने लगे। With Marrige Girl

मैं उनका मजाक बनाकर तैयार होने के लिए अपने कमरे में चला गया। कुछ समय बाद मैं सब को अपने साथ लेकर पापा के दोस्त के घर के लिए निकल गया। जब मैं अपने दोस्तों के साथ वहा जा रहा था। तब अचानक से रोड पर सिंगल लग लगा तो मुझे गाड़ी रोकने पड़ी। जब सिंगल लगा हुआ था।With Marrige Girl

With Marrige Girl
With Marrige Girl

मैं इधर उधर देख रहा था। तभी मेरी नजर एक छोटी से लड़की पर पड़ी जो उस समय रोड के बीच में पता नहीं कहा से आ गयी। उस समय सिंगल पूरा होने वाला था और वो लड़की बीच रोड में खेल रही थी। उसके आस -पास कोई नहीं था। तभी मैं अपनी गाड़ी से नीचे उतरा और उस लड़की की तरफ दौड़ा। सिगंल पूरा होने से पहले ही मैंने उस लड़की को वहा से उठा लिया। With Marrige Girl

लड़की को लेकर मैं अपनी गाड़ी के पास ले आया। यदि मैं उस लड़की को वहा से उठा कर नहीं लाता तो उस लड़की का एक्सीडेंट हो जाता। मैंने अपनी गाड़ी किनारे पर लगाई और उस लड़की के माता पिता को देखने लगा। तब मुझे वहा कोई भी व्यक्ति उसे ढूढ़ता हुआ नहीं दिखा।

जब मुझे कोई नहीं दिखा तो मैंने लड़की से उसके माता -पिता के बारे में पूछा। फिर उसने उसके मुख की और और इशारा करते हुए मुझे समझाया की वो बोल नहीं सकती। तब मुझे बहुत दुःख हुआ। लड़की सुन सकती है लेकिन बोल नहीं सकती है। जब मैंने उससे उसका नाम पूछा। तब उसने पास में एक मंदिर की और इशारा करते हुए कहा मुझसे समझाया की उसका नाम आरती है। With Marrige Girl

तब मैं उसका नाम बड़े प्यार से लेते हुए उसके घर के नंबर पूछा तभी उसने अपने हाथो के इशारो से मुझे अपने घर का नंबर बताया।  तब मैंने अपने फोन से उस लड़की के घर फोन किया तब उसकी माँ ने मुझसे बात करी तब मैंने उसकी माँ को सारी बात बताई। उसकी माँ ने हमें कुछ समय के लिए वहा रुकने के लिए कहा।

मैं जब उस लड़की को लेकर वहा आया तब पास में खड़ी एक लड़की मुझे बड़े ध्यान से देख रही थी। मैंने भी उसकी तरफ अचानक देखा और अपनी किस्मत को बुरा बताते हुए अपनी नजरे वहा से हटा ली। लड़की ने अपना मुह कपडे से ढक रखा था। मैं उसको ठीक से देख नहीं पाया।

कुछ समय बाद उस लड़की की माँ वहा आयी और मुझे थैंक्स बोल कर लड़की को वहा से ले जाने लगी तब लड़की वहा से कुछ दूसरी पर गयी और फिर मेरे पास आयी और उसने मुझे अपने फोन नंबर मागे।

उस छोटी सी बच्ची ने मुझे अपना दोस्त बना लिया था। मैंने उसे इशारो में ही अपने फोन नंबर बताये। जब मैं उस छोटी लड़की को अपना नंबर बता रहा था। तब पास खड़ी वह लड़की भी अपना फोन  निकालकर मेरा नंबर लिखने लगी। तब भी मैंने उसकी और देखा और फिर से अपनी किस्मत को बुरा बताते हुए अपने दोस्तों के साथ गाड़ी में बैठकर अपने पापा के दोस्त के घर आ गए। With Marrige Girl

शादी में आने के बाद लड़की को हुआ लड़के से प्यार। Latest Love Story With Marrige Girl.

With Marrige Girl
With Marrige Girl

मैं अपने पापा के घर तो पहुंच गया था। लेकिन मैं वहा उस समय किसी को भी नहीं जानता था। तो अपने दोस्तों के साथ अंदर जाकर बैठ गया। तभी वहा पर कुछ लोग आये और हमारे पास आकर बैठ गए। उनमे से एक ने हमारे बारे में पूछा तब मैंने अपने पापा का नाम लिया और कहा की मैं उनका बेटा हु। पापा का नाम लेते ही सब लोग मेरी तरफ देखने लगे और पिताजी के उनके पास न आने की वजह पूछने लगे। With Marrige Girl

मैंने तब पापा के वहा न आने की वजह बताई। तब सभी लोग मुझसे अपने बेटे की तरह बाते करने लगे। हम भी उन सब से अच्छे तरीके से बाते कर रहा था। तभी मेरे पास किसी अनजान का फोन आया। मैंने दो बार तो कॉल काट दिया लेकिन जब कॉल आते ही नहीं रुका तो मैंने उन सब से दूर जाकर कल उठा लिया। With Marrige Girl

तब उस कॉल पर कोई लड़की बोली और उसने कहा की वो मुझे जानती है। फिर मैं उसका नाम पूछा तो उसने मना कर दिया। जब उसने अपना नाम बताने से मना किया तब मैं अपनी किस्मत को बुरा बताते हुए उसका फोन काट दिया।With Marrige Girl

फोन काट कर मैं फिर से वही आकर बैठ गया। जब मैं अपने दोस्तों से बात कर रहा था। तभी घर के सामने गेट से मुझे एक लड़की हमारी और आते हुए दिखी। वह लड़की अपनी दोस्तों के साथ हमारी और चली आ रही। उस समय मेरी मैं बिना अपनी पलके झपकाये हुए उसे देख रहा था। वो भी मुझसे बार -बार नजरे मिला रही थी। With Marrige Girl

अपनी दोस्तों के साथ आकर वो बिल्कुल हमारे पास रखे सोफे पर आ कर बैठ गयी। मेरे दोस्त उस लड़की पर चाँस मार रहे थे। मैंने कुछ समय के लिए उसकी और देखा और फिर अपनी किस्मत को बुरा बताते हुए अपने हाथ में फोन लेकर वहा से दूर चला गया।

जब मैं वहा से दूर गया चला गया था। तब मेरे पास उसी नंबरो से दुबारा फोन आया। मैं इस बार तो वो कॉल उठा लिया था। तब उस कॉल में फिर से एक लड़की को बोली।With Marrige Girl

मैंने उसके बोलते ही उससे उसका नाम पूछा लेकिन उसने अपना नमा बताने से मना कर दिया। फिर उसने मेरे बारे ये भी बता दिया की मैं एक शादी में आया हु। उसके इतना सवब कुछ बताने पर मैं समझ गया की यह वो ही लड़की है जो हमें उस छोटी लड़की को बचाते समय मिली थी। With Marrige Girl

लेकिन उसने तो अपना चेहरा ढक रखा था तो मैं उसे कैसे पहचान पाउगा। मैंने उसे मेरे पास फोन करने के लिए मना कर दिया। उससे बात करके मैं फिर अपने दोस्तों के पास आ गया। आते ही मैंने देखा की वहा पर कोई भी लड़की नहीं है। कुछ समय बाद हम सब को खाना खिलाया गया।

खाना खाते समय मेरे आगे की तरफ वही लड़की आकर बैठ गयी जो पहले सोफे पर आकर बैठी थी। मैं उस लड़की से नजरे चुराकर खाना खा रह था। लेकिन कभी -कभी मेरी नजरे जाकर उससे मिलती। जब मेरे अंदर एक अजीब होता। वो भी खाना खाते समय मेरी और ही देख रही थी।

मैंने जल्दी -जल्दी खाना खाया और अपने दोस्तों के साथ उसी जगह पर आकर बैठ गया जहा हम पहले आकर बैठे थे। मैं कुछ समय बाद अपने सारे दोस्तों से घर चलने के लिए कहा तब सभी ने चलने के लिए हा भरी।With Marrige Girl

जब मैं अपने पापा के दोस्त के पास गया और जाने के लिए कहा। तब उसने हमें रोकने के लिए कहा। जब मैं अपने पापा के दोस्त से जाने के लिए बोल रहा था। जब वो लड़की मुझे एक कमरे की बालकनी से देख रही थी।

मेरे लाख कहने के बाद भी उस भी मेरे पापा के दोस्त ने हमें जाने से मना कर दिया। उनके मना करने के बाद मैं रुक गया। ऐसा अच्छा भी नहीं लगता की कोई हमसे बड़ा आदमी हमें बार -बार उस काम के लिए मना कर रहा हो और हम उसकी बात नहीं मान रहे हो। With Marrige Girl

मेरे पापा के दोस्त के कहने पर मैं अपने दोस्तों के साथ छत पर चला गया। हम सब ने शाम तक वहा एक -दूसरे से बाते करी और फिर रात में डीजे पर डांस देखने के लिए नीचे आ गए।

नीचे आने के बाद सब लोग डीजे पर डांस कर रहे थे। सब सब के आते ही वह लड़की भी अपने दोस्तों के साथ डीजे पर डांस के लिए गयी। मैं भी उस समय वहा पर बैठकर उसक डांस देख रहा था। उस लड़की ने सबसे अच्छा डांस किया। उसका डांस देखकर मैं उसके घर के पास बने पार्क में घूमने के लिए आ गया। With Marrige Girl

मेरे सभी दोस्त डीजे पर डांस देख रहे थे। मैं ही अकेला ही पार्क में घूम रहा था। तब मुझे फिर से एक उसकी नंबरो से फोन आया और उस लड़की ने बस इतना पूछा की मैं कहा हु। फिर मैं उसे बता दिया की मैं पास के पार्क में घूम रहा हु। इतना कहने पर फोन कट गया। मैं उस समय एक जगह पर जाकर बैठ गया। कुछ समय बाद वही लड़की मुझे मेरी और आते हुए दिखी।

मैं उसे देखकर खड़ा हो गया और उसकी तरफ देखने लगा। जब वो बिलकुल मेरे पास आ गयी तब मैं और पीछे किश्क गया। और मेरे पास आकर खड़ी हो गयी और मुझसे कहा की मैं वहा से यहां क्यों  आ गया। तब मैंने कहा की मेरा वहा मन नहीं लग रहा था। उसके ऐसा पूछने पर मैं घबरा गया था। With Marrige Girl

लड़की ने अचानक से मेरा हाथ पकड़ लिया जब उसने मेरा हाथ पकड़ा जब मैंने उससे अपना हाथ छुड़ा लिया और उससे पीछे किशक गया। वो भी मेरी और किशक गयी और दुबारा हाथ पकड़कर बोलने लगी की वो मुझसे प्यार करती है। उस समय मेरे कुछ समझ नहीं आ रहा था। फिर उसने कहा की उसने मुझसे पहली बार उस लड़की की जान बचाते हुए देखा था वो लड़की जब से मुझसे प्यार करने लगी है। With Marrige Girl

और उसने बताया की जब मैं उस लड़की को अपने हाथो के इशारो से उसे अपना नंबर बता रहा था ,जब उसने मेरा नंबर लिए थे। और कहा की कॉल करने वाली लड़की भी वही है। इतने कहने के बाद उसने मुझे जोर से मेरे गाल kiss किया उसके kiss करते ही मैं बर्फ की तरह एक जगह पर जम गया।

मैं उस समय कुछ समझ नहीं आ रहा था की मैं क्या करू। जब उसने मुझसे बार -बार प्यार की स्वीकार करने के लिए कहा तो मैंने सोचा वैसे भी कोई लड़की प्यार करने लिए राजी नहीं है। ज्यादा भाव खाऊंगा और जो आ रही है वो और हाथ से निकल जाएगी। With Marrige Girl

फिर मैंने भी उसे अपनी बाहो भर लिया और उसे जोर हग किया। मेरे हग करते ही उसने मेरे होठो पर काफी देर तक kiss किया हम दोनों एक दूसरे को काफी देर तक kiss करते रहे। फिर उसने मेरे बारे में पूछा तो मैंने उसे अपने पापा का नाम लेते हुए सब कुछ बता दिया।

उसने भी अपने बारे में बताते हुए कहा की वो मेरे पापा के दोस्त की लड़की है। हम दोनों एक दूसरे के बारे में बाते करते हुए पार्क में एक जगह पर जाकर बैठ गए। With Marrige Girl

कुछ समय बाद फिर हम डीजे परडांस देखने के लिए वहा आ गया। मैं रात तक उसके पास रहा और सुबह अपने दोस्तों के साथ घर आ गया। उसने मेरे घर आते ही मुझे कॉल किया। उस समय मैंने उसे काफी देरत तक बाते करी और फिर सोने के लिए आ गया। जब भी मेरा उस लड़की से मिलने का मन करता है मैं उससे मिलने के लिए उनके घर चला जाता हु।

तो ये थी मेरे प्यार की कहानी मुझे उम्मीद है आप सब को यह कहानी पसंद आयी होगी। ऐसी ही और रोमांस से भरी कहानी पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट 102generic .com से जुड़े रहे। With Marrige Girl

Read Also-Best Status For Facebook|फेसबुक के लिए हिंदी में सबसे अच्छे स्टेटस

Read Also-On The Birth Anniversary Of Ambedkar Jayanti, Children Should Give Speech In This Way.

 

Leave a Comment


 

x