Yog (योग) Advantages of Doing In Hindi 2021

Yog (योग) Advantages of Doing In Hindi 2021

योग का वर्णन वेद तथा उपनिषदों में मिलता है। इसके अलावा योग का वर्णन भागवत गीता, शिव संहिता, योग दर्शन और विभिन्न प्रकार के ग्रंथ में मिलता है। Yog शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग संस्कृत भाषा में किया गया था। आज के वर्तमान समय में स्वामी बाबा रामदेव योगा के बारे में संपूर्ण दुनिया को बताया और योग के बिखरे हुए ज्ञान को व्यवस्थित रूप से दुनिया के सामने बताया। हमारे देश में सबसे अधिक योग करने वाले उत्तर भारत में है।

आज की पोस्ट में आपको बताया जाएगा योग कैसे काम करता है और इससे कौन-कौन सी बीमारियां कम होने की संभावना है?

योग कैसे काम करता है –

Yog का सीधा अगर इंसान के दिमाग पर पड़ता है। योग इंसान के मस्तिष्क को स्वस्थ रखने तथा शरीर से जोड़ने में काफी महत्व भूमिका निभाता है। लगातार योगा करने का आसन हमारे शरीर के साथ-साथ ह्वदय, पाचन तंत्र तथा स्वसन तंत्र पर भी पड़ता है। योगा में ओम का उच्चारण करने से हमारा मस्तिष्क पूरी तरह से स्वस्थ रहता है। योग करने से हमारे शरीर को कई तरह के फायदे होते हैं तो चलिए और फायदों के बारे में जान लेता है।

योग करने के फायदे –

Yog करने से व्यक्ति का शरीर तथा उसका दिमाग पूरी तरह से स्वस्थ रहता है। लगातार योग करने वाले व्यक्ति का उच्च रक्तचाप धीरे-धीरे सामान होने लगता है तथा उसका तनाव भी कम होने लगता है।

योगा करने वाले व्यक्ति का रक्तसंचार काफी तेज होता है जिससे उसके सौंदर्य निखार में वृद्धि होने लगती है।

योग करने से हमारे शरीर तथा मस्तिष्क को पूर्ण रूप से शांति प्राप्त होती है। जिसके कारण हमारा मानसिक तनाव धीरे-धीरे कम होने लगता है।

इंसान को हमेशा एक ऐसा ही होगा करना चाहिए जिसमें कुछ क्षणों के लिए सांस रोकी जा सके। इस तरह का योगा इंसान की धमनियों तथा हृदय को स्वस्थ बनाता है।

गलत तरीके से बैठ जाने के कारण या पैर फिसल जाने के कारण होने वाले दर्द में योग काफी आराम प्रदान करता है। योगा करने से इंसान का शरीर लचीलापन होने लगता है और शरीर की ताकत बढ़ती है जिससे उसके जोड़ों के दर्द में काफी आराम करने लगता है।

प्रतिदिन विभिन्न प्रकार के योग करने से दैनिक कार्य क्षमता बढ़ने लगती है तथा शाम के अंदर सहनशक्ति उत्पन्न हो जाती है। गहरी सांस लेने वाले योग करने से व्यक्ति को मानसिक तनाव से छुटकारा मिलता है।

Yog शरीर तथा पेट की अतिरिक्त चर्बी को हटाने का काम करता है। लेकिन शरीर की अतिरिक्त चर्बी हटाने के लिए अलग-अलग प्रकार के योग करने की जरूरत होती है।

गर्भवती महिलाएं अगर पूरी तरह से स्वस्थ रहना है तो उनको योग अपना लेना चाहिए। प्रतिदिन योग करने वाली गर्भवती महिलाओं की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण लचीलापन आता है तथा उनकी थकान भी कम होती है।

इसलिए गर्भवती महिलाओं को खुद तथा नवजात शिशु को स्वस्थ रखने के लिए योग जरूर करना चाहिए। लेकिन गर्भवती महिलाओं को योग करने से पहले किसी चिकित्सक से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

वैसे देखे तो सारे दिन स्वास्थ्य के के लिए ही नहीं बल्कि योग हमारे चेहरे की सुंदरता को बढ़ाने में भी काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। चेहरे से कील मुंहासे तथा झाइयां दूर करने के लिए योग महत्वपूर्ण योगदान देता है।

योग में कई तरह के आसन होते हैं जो शरीर की हर प्रकार की बीमारी को दूर करने में सहायक भूमिका निभाते हैं। योग से शरीर में जमे विषैले पदार्थ पसीने के जरिए बाहर निकल जाते हैं, जिससे हमारा शरीर पूरी तरह से स्वस्थ रहता है।

योग करने से इंसान का मन शांत रहने लगता है तथा उसके बढ़ते मोटापे पर भी नियंत्रण होने लगता है। योग के कई फायदों की वजह से आज पूरा विश्व योग का महत्व समझने लग गया है।

योग करते समय इन बातों को न भूले –

व्यक्ति को लगातार कम से कम 6 महीनों तक योग करना चाहिए उसके बाद ही आपको इसका असर दिखने लगेगा।

Yog सुबह शाम खाली पेट करना चाहिए, खाना खाने के बाद योग नहीं करना चाहिए। खाना खाने के 4-5 घंटे बाद आसानी से योग कर सकते हैं। योग करते समय पानी नहीं पीना चाहिए।

व्यक्ति को योग करने के दौरान सांस छोड़ने तथा लेने पर पूरी तरह से नियंत्रण रखना चाहिए। योग करते समय आपका शरीर आगे की तरफ झुके तो आपको सांस छोड़ना चाहिए।

Yog करने के दौरान आपको अधिक वसा तथा तेज मिर्च मसाले वाले भोजन नहीं खाना चाहिए नहीं तो आपको योग का असर बिल्कुल कम दिखाई देगा।

Read More –
Class 12 Ke Baad Padhai (पढ़ाई) Kaise Shuru Kare 2021
Manav Jeevan Mein Padahi Ke Baren Kuch Important Baten 2021

admin

https://102generic.com :- Education, Daily Current Affairs, Current Gk in Hindi, Gk In Hindi, Latest General Knowledge Questions & Answers More Info.

View all posts by admin →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *