जयपुर वाली लड़की के साथ रोमांटिक कहानी। Latest Love Story In Hindi.

 Latest Love Story In Hindi.

जयपुर वाली लड़की
जयपुर वाली लड़की

यह कहानी उस समय की जब मुझे जयपुर की एक लड़की से प्यार हुआ था। मुझे उस लड़की से प्यार उस समय हुआ था जब मैं घूमने के लिए बाहर गया था। उस समय वह लड़की भी बाहर घूमने के लिए आयी थी। हम दोनों में प्यार की शुरुआत अचानक से हुई थी। मैंने ही लड़की का प्यार पाने के लिए उसका सबसे ज्यादा पीछा किया था। तो बने रहिये कहानी के अंत तक।

यह बात 2020 की है उस समय मुझे बाहर घूमने का सबसे ज्यादा शोक था। मैं हर रविवार को जयपुर में कही न कही बाहर घूमने के लिए जाता था। उस समय मेरे सारे दोस्त मुझसे बड़े थे। इसलिए मैं उनके साथ कभी बाहर घूमने के लिए नहीं जाता था। मेरे दोस्त मुझसे बड़े थे इसलिए वे हमेशा मुझसे ऐसी -वैसी बाते करते रहते थे। इसलिए मैं अकेला ही घूमने के जाता था। जयपुर वाली लड़की

मेरी अकेले ही घूमने की आदत सी पड़ गयी थी।मैं धीरे -धीरे अकेला रहना पसंद करने लगा था। एक दिन की बात है। मैं घूमने के लिए अपने स्कूल से जल्दी अपने घर आ गया। लेकिन उस दिन मेरे सारे कपडे गंदे थे इसलिए मैं उस दिन बाहर घूमने नहीं जा पाया। फिर मैंने अगले  दिन बाहर घूमने जाने का प्लान बनाया। जयपुर वाली लड़की

मैं धुप की वजह से सुबह जल्दी उठा और तैयार होकर घूमने के लिए निकल गया। जयपुर में कई जगहों पर घूमने के बाद मैं काफी थका हुआ था तो पास के एक पार्क में जाकर बैठ गया। उस समय मैंने वहा पर कई लड़कियों को घुंड बनाकर बैठे हुए देखा। वे सभी एक साथ बैठकर उस सकी शायद कोई खेल खेल रही थी।

तभी मेरी नजर उन सबके बीच बैठी एक लड़की पर गयी। वह चेहरे से तो मासूम लग रही थी। मैं उस समय वहा बैठकर उसे देखने लगा। वह उसकी वाकी लड़कियों से तो काफी सुन्दर थी। मुझे उसे देखते ही उसे प्यार हो गया था। उस समय मैंने उसे पटाने की भी कोशिश की थी। जयपुर वाली लड़की

लेकिन वो मेरी और देखकर अपनी नजरे फेर लेती।वे कुछ समय तक वहा पर खेल खेलती रही और उसके बाद उन्होंने वहा से जाने का प्लान बनाया। उन्हें देखकर लग रह था की वे लोग भी कही बाहर घूमकर आयी  है। कुछ समय बाद वे पार्क के पास ही होटल था उसने चली गयी।

मुझे भी उस समय भूख लग रही थी तो मैं भी कुछ खाने के लिए उस होटल में चला गया। तब भी वो मेरी और बार -बार देख रही थी। कुछ समय बाद उस सब ने वहा पर घूम रहे गरीब बच्चो को खाना खिलाया। उस समय मुझे उस लड़की से प्यार हो गया था। वहा पर उस समय कई लोग बैठे हुए थे। लेकिन किसी ने भी पहले उन सब को खाना नहीं खिलाया। जयपुर वाली लड़की

आजकल इस दुनिया में कोई भी किसी की मदद नहीं करता लेकिन उस लड़की और उसके दोस्तों में उस समय मुझे इंशानियत की झलक दिखी। धुप कुछ ज्यादा थी। तो वे फिर से उस पार्क चली गयी। मैं भी उसका पीछा करता करता वहा पार्क में जाकर बैठ गया।

तभी उन्होंने मुझे आवाज देखकर बुलाया उस उस समय मैं थोड़ा घबरा गया था की कही इसका पता न चल गया हो की मैं इनका पीछा कर रहा हु। लेकिन जब मैं वहा पर जाकर पंहुचा इस समय वहा बात कुछ और थी। जयपुर वाली लड़की

जब मैं उनके पास पंहुचा तो उन्होंने मुझे उन सभी दोस्तों की फोटो लेने को कहा। तब मैंने उन सब दोस्तों की फोटो ली और उनका फोन उन्हें दे दिया। जब मैंने उस सब की फोटो खींची थी वो उस समय मुस्कुराते हुए बहुत मस्त लग रही थी। फोटो खींच कर मैं फिर से अपनी जगह पर आकर बैठ गया।

वे लोग आपसे में बाते कर रहे थे तभी एक चोर उनका सामान लेकर भाग गया तभी मेरी नजर उस चोर पर पड़ी मैंने उस समय उन सब को काफी आवाज दी थी लेकिन उन्हें पता तब चला जब चोर उनका सामान लेकर वहा से भाग चूका था। मैं अपने सामान उठाया और इन सब के पास रख दिया। और उन्हें मेरा इंतजार करने को कहा। जयपुर वाली लड़की

ऐसा बोलकर मैं वहा चोर को पकड़ने के लिए उसके पीछे -पीछे भागने लगा। हम उस चोर के पीछे -पीछे काफी दूर तक भागा वो चोर मुझे कुछ दुरी पर तो दिखा लेकिन बाद में कही गली में जाकर घुस गया। मैंने उसे गली में हर जगह ढूंढा लेकिन वो कभी नजर नहीं आया। जयपुर वाली लड़की

अंत में मैं थक कर मैं एकचाय की थड़ी पर बैठ गया। कुछ समय बाद वो चोर खुद वहा आकर मुझे उसका बैग दे गया। उस बैग उनके कपड़ो के अलावा कुछ नहीं था। मुझे उस समय काफी अंधेरा हो गया था। मैं उस समय जल्दी पार्क में पंहुचा। वहा जाकर देखा वो लोग वहा से जा चुके थे। तभी मुझे वह लड़की मेरा इंतजार करते हुए दिखी। मैं तुरंत उसके पास गया और उसका सामना उसे दे दिया।

उसने भी मुझे अपना बैग देते हुए कहा की इतना पीछा करने की क्या जरुरत थी जब इस बैग में कपड़ो के अलावा कुछ नहीं है। उसमे कहा की उसकी सारी दोस्त उसे छोड़कर वहा से चली गयी हैं। वो भी चली जाती लेकिन मेरा बैग उसके पास था। जिसे मैं चोर का पीछा करते समय उसको देकर गया था।

लड़की के सामान को चोर से बचाने के बाद लड़की को भी हुआ लड़के से प्यार। जयपुर वाली लड़की के साथ रोमांटिक कहानी। Latest Love Story In Hindi.

जयपुर वाली लड़की
जयपुर वाली लड़की

उस समय हम दोनों को काफी देर हो गयी थी। तभी उसने कहा की वो मेरी वजह से आज उसकी दोस्तों के घर नहीं जा पाई। उसके मम्मी पापा से देर से पहुंचने पर बहुत डाटेगे। तभी मैंने उससे कहा की यदि यदि वो बुरा न माने तो आज रात को मेरे घर रुक सकती है। लेकिन उसके घर आने मना कर दिया। हम दोनों का उस समय फोन भी बंद था। इसलिए हमारी कोई मदद भी कर सकता। जयपुर वाली लड़की

फिर मैंने उसको कहा की मेरा घर पास में ही है कुछ समय में हम दोनों वहा पहुंचग जायेगे उसके बाद मैं तुम्हे अपनी गाढ़ी से तुम्हारे घर छोड़ दुगा। तभी उसने कहा की यदि वो इतनी रात की किसी अनजान लड़के के साथ बैठकर घर आएगी तो उसके पापा उसे मार देंगे। जयपुर वाली लड़की

उसके इस तरह बताने पर मैंने कहा की यदि यह आप पास कोई उसकी दोस्त रहती है तो मैं उसे वहा तक छोड़कर आ सकता हु। इससे उसके पिताजी को भी पता नहीं चलेगा और वो सुबह आराम से अपने घर जा सकती है। तभी उसने कहा की उसकी पास ही मैं एक दोस्त रहती है।

तब हम दोनों बाते करते हुए पैदल -पैदल हमारे घर पहुंच गए। उस समय मेरे घर वाले मेरे मामा के गांव गए हुए थे। हम दोनों ने कुछ समय हमारे घर आराम किया। फिर मैंने अपनी गाड़ी निकाली और उसको छोड़ने के लिए वहा चल गया। जयपुर वाली लड़की

मैं उस समय अपनी बाइक से उसे उसकी दोस्त को छोड़ने के लिए गया। हम आराम से बाते करते हुए जा रहे थे। वो मुझसे एक -एक कर के बाते पूछ रही थी और मैं उअके एक बात क जबाव देता जा रहा था। उसने उस समय मुझे किसी लड़की से चक्कर के बारे में भी पूछा। लेकिन मैंने उसे ऐसी कोई बात महि बताई किसी वो मुझपे शक करे। जयपुर वाली लड़की

हम दोनों बाते करते हुए उसकी दोस्त के घर जा पहुंचे। मैं उसको उसकी दोस्त के घर छोड़ कर आने वाला ही था की अचानक से मुझे उसने आवाज लगाई और कहा की मैं आज रात यही रुक जाऊ। लड़की ने जब मुझसे ये बात कही मुझे विश्वास होने लगा की यह लड़की भी मुझसे प्यार कारगी।

हम सब ने उस समय एक साथ खाना खाया और कुछ समय तक आज हुई घटना के बारे में बाते करने लगे। थोड़ी देर बस सब को धीरे -धीरे नींद आने लगी तो सब अपने -अपने कमरे में जाकर सो गए। उस समय मुझे नींद नहीं आ रही थी। इसलिए मैं उसके घर में बने छोटे से पार्क में जाकर बैठ गया।

कुछ समय मैं वहा बैठा था की वह लड़की भी वहा आ गयी। उसने कहा की आज उसे नींद नहीं आ रही है। इसलिए वो यह घूमने के लिए आ गयी। उस समय हम दोनों पास -पास बैठकर बाते करने लगे। मैंने उससे उस समय प्यार करने की बात कहने का मन बना  लिया। उस समय मुझे डर भी लग रहा था की कही यह बुरा ना मान जाये। जयपुर वाली लड़की

तभी उसने मेरे चेहरे की तरफ देखा और कहा की मैं कुछ चाहता हु क्या। तभी मैंने कहा की यदि वो मेरी बात का बुरा ना माने तो मैं एक बात कहु। फिर उसने हामी भरते हुए कहा की वो मेरी किसी भी बात का बुरा नहीं मानेगी।

जब उसने मुझे बात कहने को कहा तो मैंने कह दिया की मैं उससे प्यार करता हु। जब से मैंने उससे देखा मैं उसके बारे में सोचता रहता हु। जब मैंने उस लड़की की तारीफे के पुल बांध दिए। उसके बाद उसने भी मेरे प्यार को स्वीकार कर लिया। मैं उस समय बहुत खुश हुआ। ये जानकर की पहली बार किसी लड़की से प्यार हुआ है और वो ही मुझे मिल गयी। जयपुर वाली लड़की

हम उस रात बाते करने के बाद अपने -अपने कमरे सोने के लिए चले गए। सुबह होते ही मैं अपने घर आ गया। हम दोनों का जब भी मिलने का मन करता है। हम उसकी दोस्त के घर चले आते है। तो ये थी मेरी जयपुर वाली लड़की के साथ प्यार की कहानी आप को बहुत पसंद आयी होगी। ऐसीहो और कहानी पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट 102generic.com से जुड़े रहे।

 

Read Also-Prabhas and Pooja Hegde’s unique story of love and luck released in the movie Radhe Shyam.| Today News 2022

Read Also-2022 Latest Fb Whatsapp Instagram for Hindi Status.

Leave a Comment


 

x