अग्निपथ योजना का विरोध करने वाले उपद्रवी पुलिस हिरासत मे / देश की सम्पति को पहुंचाया भारी नुकसान

अग्निपथ योजना /का विरोध करने वाले उपद्रवी पुलिस हिरासत मे / देश की सम्पति को पहुंचाया भारी नुकसान

इस प्रकार जानिए क्या है पूरा मामला / क्या है अग्निपथ योजना –

पूरे भारतवर्ष में अग्निपथ योजना का युवाओं के द्वारा भारी रूप से विरोध किया जा रहा है | इस विरोध ने अपना एक अलग ही भयानक रूप ले लिया अनेकों  युवाओं ने देश की संपत्ति को भारी ठेस पहुंचाई है

|

अनेकों साधनों को जलाया है तोड़फोड़ में चाहिए दरअसल आपको बता दें की अग्निपथ योजना एक आर्मी भर्ती योजना है या फिर यूं कहें एक सेना भर्ती योजना है जिसमें थल सेना वायु सेना और इस जल सेना के लिए विभिन्न पदों पर युवाओं को शामिल करने की योजना है , इस योजना के तहत युवाओं की भर्ती परीक्षा करवाई जाएगी जिसमें युवाओं को एग्जाम देना पड़ेगा और उसे पास करने के बाद फिजिकल होगा उसके बाद में उनका सिलेक्शन होगा इस प्रकार से सिलेक्शन लिए युवाओं को 4 साल के लिए ड्यूटी करने का मौका मिलेगा देश की सेवा का मौका मिलेगा 4 साल के बाद उन युवाओं में से 25% युवा जो सबसे बेहतर होंगे जिन का अनुभव सबसे तेज होगा उन्हें सेना में आगे बनाए रखा जाएगा जबकि बाकी 75% सेना के जवानों को रिटायरमेंट के लिए रखा जाएगा यानी उनका रिटायरमेंट किया जाएगा इस दौरान भी 75% रिटायरमेंट हुए जवान 4 साल के बाद लगभग 1200000 रुपए की राशि लेकर रिटायरमेंट लेंगे| देश की सुरक्षा पदों का कहना है युवा इन रिटायरमेंट पैसों से अपने लिए भविष्य में कुछ कर पाएंगे लेकिन देश में इस योजना को सहमत नहीं मारा जा रहा है |

20 जून को रहेगा भारत बंद –

वही आपको बता दें कांग्रेस इसके विपक्ष में भारी विद्रोह कर रही है यानी विपक्ष में खड़ी है आज यानी 20 तारीख जून को यह विद्रोह है भारत बंद के रूप में होगा इस विद्रोह में आने को युवाओं ने तोड़फोड़ मचाई है इस मामले पर सुरक्षा मंत्रालय ने कार्रवाई करते हुए कहा सेना में युवाओं की भर्ती इसी प्रोसेस द्वारा होगी जो नियम लेकर आया गया है उस नियम को ही हमेशा के लिए बनाए रखा जाएगा |

योजना को वापस नहीं लिया जाएगा-

यह अग्निपथ योजना के तहत ही अग्नि वीरों की सेना में शामिल होगी साथ में सुरक्षा मंत्रालय ने बताया की इस योजना को वापस नहीं लिया जाएगा चाहे कुछ भी हो जब सेना में भर्ती की जाएगी उस दौरान वे युवा जिन्होंने इस अग्निपथ योजना को लेकर के विद्रोह के रूप में अनेक तबाही मचाई है तोड़फोड़ की है उन उपद्रवियों को सेना में शामिल नहीं किया जाएगा सुरक्षा बल का कहना है जब जवानों का सिलेक्शन होगा उस दौरान एक पुलिस वेरिफिकेशन भी होगा जिसमें सा यह शामिल किया जाएगा कि इस उपद्रव में वह परीक्षार्थी शामिल नहीं था अगर इस मामले को पूरी तरह से देखा जाए तो विद्रोहियों ने अनेक तबाही मचाई है|

उपद्रवियों पर सुरक्षा का भारी सिकंजा –

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अनेकों उपद्रवियों को अपनी हिरासत में लिया है ऐसे 35 ग्रुप व्हाट्सएप ग्रुप जो गलत अफवाहों को फैलाए जा रहे थे इस अग्निपथ योजनाओं के लेकर लोगों के दिमाग में गलत प्रणाली प्रस्तुत कर रहे थे ऐसे व्हाट्सएप ग्रुप को बैन कर दिया गया साथ में उपद्रव में शामिल 804 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया वही इस यूपी में भी बहुत बड़ा सिलसिला गिरफ्तारी का देखा गया इस उपद्रव को लेकर अब तक लगभग 145 के सामने आ चुके रक्षा

योजना को लेकर मंत्रालय का कहना –

मंत्रालय का कहना यह देश के लिए अग्निपथ योजना आने वाले समय में सबसे बड़ा सुरक्षा बल होगा भारत का सुरक्षा तंत्र मजबूत होगा देश में युवाओं की उपस्थिति होगी अंतर्राष्ट्रीय लेवल पर भारतीय सेना का दबदबा होगा साथ में

 जो युवा बेरोजगार हैं उनके लिए रोजगार उपलब्ध होंगे तो सभी युवाओं को और इस अग्निपथ योजना के विरोधी उपद्रवियों को इस योजना को एक सही तरीके से समझना चाहिए और इसे स्वीकार करना चाहिए अब यह योजना वापस नहीं ली जाएगी इस पर पूरा सुरक्षा मंत्रालय और मुख्य मंत्रालय पिछले कई सालों से विचार कर रहा है एक-एक बारीकियों समझ कर इस योजना को लाया गया है यह योजना वापस नहीं होगी

यहा से जाने योजना से जुड़ी सारी बाते –

Leave a Comment


 

x