क्रिकेट मैच वाली लड़की के साथ प्यार की कहानी | Cricket Love Story In Hindi

क्रिकेट मैच वाली लड़की के साथ प्यार की कहानी। 

Cricket Love Story In Hindi
Cricket Love Story In Hindi

यह कहानी उस समय की है जब पूरा देश में कोरोना महामारी का खौफ पुरे देश में फैला हुआ था। उस समय मुझे मेरे मामा ने  फोन करके शहर भुलाया था। उस समय मैं पहली बार गांव से शहर आया था।

मुझे आज भी वो दिन याद है जब मैं सुबह जल्दी तैयार होकर शहर की तरफ अपने घर से चला। मैने बैग में अपना सामान भरा और निकल गया।

उस समय कोरोना खहर चारो तरफ मचा हुआ था। कोरोना की वजह से शहर के अंदर जाने वाले सभी रास्तो पर पुलिस तैनात थी। जिसकी वजह से न तो कोई शहर के अंदर जा सकता है और ना ही कोई बाहर।

मैं पुलिस की नजरो से बचते हुए चोरी छिपे अपने मामा के घर पहुंच गया। मुझे देखकर वहा पर सभी लोग खुश हुये। मैने वहा पर सभी को घर के बारे में बताया।

हम सब ने रात को ढेर सारी बाते भी करी। बाते  करते करते मैं और मेरे मामा ला लड़का अनुज हम दोनों अपने वाले कमरे में जाकर सो गये।

अगली सुबह हम सब जल्दी उठकर सुबह की नास्ता के साथ फिर से एक जगह बैठकर बाते करने लगे। हमारे बातो ही बातो में समय कब निकल गया हमें पता नहीं चला। हम सब ने एक साथ दोपहर का खाना खाया और फिर से सो गए।

उस समय सब का हाल ही ये था की सब उस समय फ्री रहते थे किसी को कोई काम नहीं था। बस अपने परिवार के साथ टीवी देखो या फिर बाते करो।

शाम को अनुज ने बताया की उनके पास ही में एक गार्डन है। जिस में गली के सभी लड़के क्रिकेट खेलने आते है। उस समय हम दोनों भी वहा पर खेलने के लिए गए। उस समय मेरा वहा पर कोई भी दोस्त नहीं बना था।

लेकिन जब मैं उनके साथ अच्छा व्यवहार करने लगा तो सभी मेरे दोस्त बन गए। उस समय सभी लड़को में से सबसे अच्छा क्रिकेट खेलना मुझे आता था।

मैं अनुज के साथ रोज शाम को पास वाले मैदान में जाते और वहा पर अपने दोस्तों के साथ क्रिकेट मैच खेलते और वहा से चले जाते। एक दिन की बात है जब हम सब शाम को मैच खेलने के लिए मैदान में पहुंचे थे की हम ने देखा की जिस मैदान में हम रोज खेलते थे उस मैदान में आज लड़किया खेल रही हैं।Love Story In Hindi .

उनको देख कर हमारी टीम से एक लड़का उनकी और बड़ा और उनसे वहा से जाने बोला।

तब सभी लड़कियों ने उस लड़के को वहा से डरा कर भगा दिया उसके उतरे हुए चेहरे को देखकर हम सब एक साथ लड़कियों की और आगे बड़े हम सब को एक साथ आते देखकर उनमे से एक लड़की उनके झुंड से बाहर आयी और बोली तुम लड़को को लड़ाई के अलावा और कोई काम नहीं है क्या। जो हर बात पर लड़ने के लिए तैयार रहते हो।

यदि तुम इस मैदान खेलना चाहते हो तो उसका भी फैसला हम आज कर देंगे। बात ये है की लड़के और लड़कियों का दो टीम बनाकर एक मैच किया जायेगा। जो टीम जीतेगी वही इस मैदान खेलेगे।

उसकी बातो को सुनकर दोनों टीम उस मैच के लिए तैयार हो गयी। दोनों टाइम अपनी अपनी टीम के साथ मैदान से बाहर आ गए। मैं भी अनुज के साथ अपने मामा के घर आ गया। Cricket Love Story In Hindi

अगले रविवार को हमारा मैच होना था। सब को रविवार का बेसब्री से इंतजार था। दूसरी रोज उस मैदान में खेलने के लिए कोई नहीं गया।

आखरिकार वो पल आ ही गया जिसका सबको इंतजार था। मैं और अनुज दोनों सुबह जल्दी उठकर क्रिकेट के सामना के साथ मैदान में पहुंचे।

मुझे और अनुज को मैदान की तरफ जाते हुए देखकर हमारी टीम के सभी लड़के मैदान में पहुंच गए।

हम सब के मैदान में पहुंचते ही लड़कियों की पूरी टीम भी मैदान में पहुंच गयी। दोनों टीमों ने अपने अपने कप्तान का चुनाव किया। जिसमे लड़को वाली टीम से कप्तान  के लिए मुझे चुना गया।

और लड़कियों वाली टीम से उस लड़की को कप्तान बनाया गया जिसने इस मैच के बारे में बोला था।Cricket Love Story In Hindi

दोनों टीमों ने अपने अपंने कप्तान का चुनाव कर के टॉस किया। जिसमे लड़कियों ने टॉस जीत लिया। टॉस जितने के साथ ही लड़कियों की टीम काफी खुश नजर आयी।

उसके बाद लड़कियों कि टीम खेलने के लिए मैदान में उत्तरी। उनकी पूरी टीम के खिलाड़ियो अपने अपने हुनर के हिसाब से रन बना दिए। लड़कियों वाली टीम ने पुरे मैच में 150 रन बनाये।

अब हमें लड़कियों से जितने के लिए 156 रनो की जरुरत थी। मैच खेलने की अगली बारी हमारी थी। हमारी वाली टीम के सभी लड़को ने अपने अपने हिसाब से रन बनाये। मेरे और अनुज के अलावा सब आउट हो चुके थे और हमें 60 रन और बनाने थे।

मैने और अनुज ने एक शानदार पारी खेलते हुए जैसे तैसे अपनी टीम को जित दिला ही दी।Cricket Love Story In Hindi

हमारी जीत होते ही लड़कियों की टीम में सभी का चेहरा उतर गया।

जब हमारी टीम से एक लड़का आगे आया और बोला की आज के बाद तुम लड़किया इस मैदान के आस पास भी मत दिखना। और है हम लड़कों को तो तुम बिल्कुल ही किसी चीज में चेलेंज मत करना।

ऐसा बोलने उन सब का चेहरा और अधिक उतर गया। फिर मैने सब को समझाया की ऐसा कुछ नहीं है। लड़किया भी किसी से कम नहीं है। लड़किया भी बहुत टेलेंटेड होती है।Cricket Love Story In Hindi

ये मैदान किसी का नहीं है हम सब मिलकर भी इसमें खेल सकते है।

लड़ाई की कोई जरुरत नहीं है। कल से हम सब मिलकर एक साथ इस मैदान में खेलेंगे। जिसमे लड़के और लड़किया दोनों एक साथ अपनी अपनी टीम बनायेगे।

मेरी इस बात को सुनकर सभी लड़किया मेरे चेहर की तरफ देखने लगी। तब सभी मेरी बात पर सहमत हो गए। और सभी ने मिल जुल कर खेलने का प्लान बनाया।Cricket Love Story In Hindi

क्रिकेट मैच के बाद लड़की को हुआ प्यार।Cricket Love Story In Hindi.

Cricket Love Story In Hindi
Cricket Love Story In Hindi

मैने जो बात उस दिन सबसे के सामने रखी थी। वो बात लड़कियों की टीम की कप्तान को सबसे अच्छी लगने लगी थी। उसे देखकर मुझे लगता था की वो मुझे पसंद करने लगी थी। उस लड़की का नाम नेहा था। हम रोज एक साथ मिलकर मैदान में खेलते और शाम को घर चले जाते।

कोरोना के समय में हमारा समय निकालने का यह सबसे अच्छा तरीका था। हम मैच खेलने के बाद मैदान में रुककर आपस में एक दूसरे से हसी मजाक भी करते।

एक शाम को मैं और अनुज खेलकर घर जा रहे थे तब मुझे उसने पीछे से आवाज लगाकर रोका। उसके आवाज लगते ही अनुज से उसकी और इशारा करते हुए कहा की तुझे नेहा बुला रही है। तब मैं उसकी और देखकर रुक गया। उसके साथ उसकी एक दोस्त और थी जिसने अनुज को अकेला जाने को कहा।

उसने कहा की सचिन को अकेला छोड़ दो नेहा को इससे कुछ काम है। उसके ऐसा कहते ही अनुज मुझे अकेला छोड़कर चला गया। उसकी दोस्त भी अनुज के जाते ही हम दोनों को छोड़ कर वो भी वहा से चली गयी।

फिर उसने मेरे पास आकर मुझसे कैसे हो ऐसे पूछा मैने भी ठीक हु ऐसा बोलकर उससे मुझे रोकने की वजह पूछी। तब उसने कहा की आज उसका बहुत घबरा रहा है और उसका मुझसे बात करने का मन भी कर रहा है इसलिएर उसने मुझे रोक लिया।

उसने बताया की उसे रात में नींद नहीं आती है वो मेरे सारी रात मेरे बारे में ही सोचती रहती है। आगे उसने कहा की वो मुसको पसंद करती है।आगे उसने कहा की यदि मुझे वो पसंद नहीं है। तो मना कर दे। इतना कहकर वो मेरी आखो में देखने लगी।

मैने भी उसकी तरफ उसकी आखो में देखा और उससे हा कर दी। मेरे हा करते ही उसने मुझे जोर से पकड़ कर गाने लगा लिया। और कहा की वो मुझसे बहुत ज्याद प्यार करती है।

उसने कहा की जब हमारा मैच हुआ था तब मैने सभी को एक साथ मिल जुलकर खेलने की बात कही थी। वो वाली बात उसको अच्छी लगी और वो  दिन से प्यार करने लगी थी।

उस दिन हम दोनों ने देर रात तक बात की। मैने भी उसे अपने मामा के बारे बताया।बाते करते करते हम हम दोनों अपने अपने घर आ गए। अगले दिन सुबह उसने अनुज से मेरे नंबर लेकर मेरे पास कॉल किया और मुझे मिलने को बुलाया। मैं जल्दी से तैयार होकर उसके पास चला गया।

फिर उसने मुझे बाहर घूमने के लिए कहा लेकिन कोरोना के समय में किसी को बाहर घूमने की इजाजत नहीं थी। फिर हम दोनों पास के एक पार्क में चले गए। वहा पर हमें खूब सारी प्यारभरी बाते की।

हम आज भी एक दूसरे से इतना ही प्यार करते है जितना हम पहले करते थे। जब कोरोना की बीमारी पूरी तरह से समाप्त हो जाएगी तब मैं अपने गांव चला जाउगा। लेकिन मेरा प्यार उसके लिए वैसा ही रहेगा जैसे पहले था।

 

Read Also –Russia threatens to drop atomic bombs on Ukraine. Many cities have become battlegrounds| 2022 Today News

Read Also –Know The Story Of Two Loving People The Funny Moments Of Both Of Them | New love story 2022

 

 

 

 

 

Leave a Comment

 


x